One sided love shayari

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
अपना दिल पेश करूँ अपनी वफ़ा पेश करूँ

कुछ समझ में नहीं आता तुझे क्या पेश करूँ

तेरे मिलने की ख़ुशी में कोई नग़्मा छेड़ू

या तिरे दर्द-ए-जुदाई का गिला पेश करूँ

मेरे ख़्वाबों में भी तू मेरे ख़यालों में भी तू

कौन सी चीज़ तुझे तुझ से जुदा पेश करूँ

जो तिरे दिल को लुभाए वो अदा मुझ में नहीं

क्यूँ न तुझ को कोई तेरी ही अदा पेश करूँ

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
खुदा दोस्त वो होता है,

जब आप रुकें तो वो आगे बढ़ाए,

जब आप अकेले हों तो बात करे,

जब आप कुछ खोज रहे हों तो आपका गाइड बने,

जब आप राह भटक जाए तो आपका राहबर बने

और जब आप उदास हों तो आपको हंसाए।

वो हर वक्त हमारे साथ रहता है और सदा साथ निभाते है।

🍫 हप्पी फ्रेंडशिप डे 🌹
HAPPY FRIENDSHIP DAY 💐

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
हाल क्या कहूं ….लग गई हैं नजर तुम्हारी,
तुम्हारी थी…इसलिए अब तक नही उतारी!!!!

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
*तसल्ली से पढ़े होते*
*तो समझ में आते हम,*
*ज़रूर कुछ पन्ने बिना*
*पढ़े ही पलट दिए होंगे…🌸*

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
सर्दी में, आग हो जाओ तुम

ये बंजर, बाघ हो जाओ तुम

ये खूबसूरती कौन देखता है

चेहरे का,दाग हो जाओ तुम

तेरा घर हो गया है, शमशान

घर की, राख सो जाओ तुम

सच्ची मोहब्बत, भी मिलेगी

हां पहले पाख़ हो जाओ तुम

लिख जाएगी कहानी,तुम्हारी

बोर्ड की,चाक हो जाओगे तुम

दुनिया तुम्हे बेवफा ही बोलेगी

एक नहीं,लाख हो जाओ तुम

सोना तो गले में,सब पहनते हैं

लोहे की,सलाख हो जाओ तुम

पढ़ लिया मोहब्बत का जुमला

अब तीन,तलाख हो जाओ तुम

भैरव

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
मेरे होंठो पर लफ्ज़ भी अब तेरी तलब लेकर आते हैं,

तेरे जिक्र से महकते हैं तेरे सजदे में बिखर जाते हैं।

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
तुमको लेकर मेरा ख्याल नही बदलेगा,

साल बदलेगा मगर दिल का हाल नहीं बदलेगा.🙂

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
अगर यादों की कीमत एक पैसा भी होती,,,
तो आज तुम मेरे अरबों के कर्जदार होते।।।🙂

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
आलू की सब्जी में नींबू निचोड़ देंगे।
तुम्हारे लिए पूरी दुनिया छोड़ देंगे ।😍😍

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
गुमनाम सा हो गया है ये रिश्ता
ए खुदा इस टूटे रिश्ते को कोई नाम दे,

ना मरे हैं और ना ही जिंदा हैं
ए खुदा इस जिंदगी को कोई अंजाम दे,

मंजिल है ही नहीं इन रास्तों पर शायद
ए खुदा किस रांह पर जाऊं कोई पैगाम दे,

सुना है कि रोने से दिल हल्का हो जाता है
ए खुदा इन आंखों को आंसुओ का सैलाब दे,

उसे कुछ मत कहना मेरी मोहब्बत है वो
ए खुदा मुझे बेशक बेवफा का खिताब दे,

मोहब्बत करके कोन सा गुनाह किया था मैने
ए खुदा मेरे गुनाहों का जरा मुझे हिसाब दे,

उसे छीन कर मुझसे मुझे जिंदा क्यूं रखा है
ए खुदा मेरे एक एक सवालों का जवाब दे,

मै सो रहा हूं के फिर कभी उठ ना सकूं
ए खुदा इन आंखों में ऐसा कोइ खवाब दे।

 

JB Singh

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
कहीं यादों का मुकाबला हो तो बताना,,,
हमारे पास भी किसी की यादें बेमिसाल होती जा रही है।।।🙂

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
is se pehle ki bewafa ho jaye,

kyu n ae dost hum juda ho jaye….💔

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
हमने उसके लब-ओ-रुख़्सार को छूकर देखा,

हौसले आग को गुलज़ार बना देते हैं !!
🙂

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
हुआ ही क्या जो वो हमे मिला नहीं

बदन ही सिर्फ एक रास्ता नहीं

यह पहला इश्क़ है तुम्हारा सोच लो

मेरे लिए ये रास्ता नया नहीं।

मैं दस्तकों पर दस्तकें दिया गया

मगर वो एक दर कभी खुला नहीं

अज़हर इक़बाल

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
“जहाँ रहेगा वहीं रौशनी लुटाएगा

किसी चराग़ का अपना मकाँ नहीं होता”

#says

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
उसी का शहर, वही मुद्दई, वही मुंसिफ,

हमें यकीन था हमारा कुसूर निकलेगा।🙂

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
जब सहनशक्ति बढ़ जाती है,

तो दुःख छोटे लगने लगते है….

 

पांवों के लड़खड़ाने पे तो सबकी है नज़र,

सर पे कितना बोझ है कोई देखता नहीं।🙂

 

वक़्त बीत जाये तो लोग
भुला देते हैं,

 

बेवजह लोग अपनों को भी
रुला देते हैं,

 

जो दिया रात भर रोशनी
देता है,

सुबह होते ही लोग

उसे भी
बुझा देता है…!!!

 

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
इस दुनिया में वफ़ा करने वालों की कमी नहीं,

बस प्यार ही उससे हो जाता है जो बेवफा हो।
💔

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
हम सफ़र के वो मुसाफिर है,,

जिनका न सफर पूरा हुआ न मंजिल मिली…!!🥺

 

मैं एक शाम जो रोशन दिया उठा लाया,

तमाम शहर कहीं से हवा उठा लाया।🙂

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari, [02-08-2022 21:00]
कबीरा जब हम पैदा हुए, जग हँसे हम रोये,

ऐसी करनी कर चलो, हम हँसे जग रोये।

umr bhar gaalib yahi bhool karta raha,

dhool chehre par thi aur aaina saaf karta raha….🍂

 

मैं यूं ही फिरता रहता हूं, गलियों में

मैं मुसाफिर नहीं मंजिल से भटका हूं

 

होश वालों को ख़बर क्या बे-ख़ुदी क्या चीज़ है
इश्क़ कीजे फिर समझिए ज़िंदगी क्या चीज़ है।

 

 

फलसफ़ा कोई नहीं है, और न मकसद कोई

लोग कुछ आते जहाँ में, हिनहिनाने के लिए

ज़िंदगी में ग़म बहुत हैं, हर कदम पर हादसे रोज

कुछ समय तो निकालो, मुस्कुराने के लिए

हुल्लड़ मुरादाबादी

 

बहुत कुछ देखना है आगे आगे

अभी दिल ने मिरे देखा ही क्या है

 

हवा के रूख पर रहने दो, ये चलना सीख जायेगा,
कि बच्चा लडखडायेगा तो चलना सीख जायेगा,

वो पहरों बैठ के तोते से बातें करता रहता है,
चलो अच्छा है अब नज़रें बदलना सीख जायेगा,

इसी उम्मीद पर हमने बदन को कर लिया छलनी,
कि पत्थर खाते खाते पेड फलना सीख जायेगा,

ये दिल बच्चे की सूरत है, इसे सीने में रहने दो,
बुरा होगा जो ये घर से निकलना सीख जायेगा,

तुम अपना दिल मेरे सीने में कुछ दिनों के लिए रख दो,
यहां रहकर ये पत्थर भी पिघलना सीख जायेगा।
💖

मैंने जब खोली गुदड़ी की तुरपाई।
❤️माँ मुझे बहुत याद आई।।

उसके एक कोने मे लगा था,
मेरे विद्यालय की गणवेश
का स्वेटर।

उसी से सटा के जुड़ा हुआ था,
मेरे भाई का वो कबड्डी
वाला नेकर।

जिसे पहन कर बड़ी भाव
खाती थी-

बहिन की वो फेवरेट वाली फ्रॉक,
क्या गजब की काम आई।
मैंने जब खोली गुदड़ी की तुरपाई।
माँ मुझे बहुत याद आई।

दादी की वो लुगड़ी जिस पर
पत्तीदार गोटा था,

पापा का वो कोट जिसका
कपड़ा बड़ा मोटा था।

वो जिसका हम खेल खेल में
टेन्ट बना लेते थे,

वो चादर भी अलट पलट
कर थी लगाई।

मैंने जब खोली गुदड़ी की तुरपाई।
माँ मुझे बहुत याद आई।

 

तकियों की खोली,
कमीज,पजामे,बनियान,मफलर।
मोजे,टोपे,टाई,
रुमाल,तौलिया,टी शर्ट भर भर।
सबको सलीके,स्नेह,
समर्पण के रंग बिरंगे
धागों से जोड़ा,

और अपनी सबसे सुन्दर साड़ी,
कवर बनाकर चढ़ाई।
मैंने जब खोली गुदड़ी की तुरपाई।
माँ मुझे बहुत याद आई।

 

उसने पुरानी ख़ुशियों से नई
ख़ुशी जीने की अनमोल
कला थी सिखाई।
मैंने जब खोली गुदड़ी की तुरपाई।
माँ मुझे बहुत याद आई।
══════❥❥══════

देख मोहब्बत का दस्तूर
तू मुझ से मैं तुझ से दूर

तन्हा तन्हा फिरते हैं
दिल वीराँ आँखें बे-नूर

दोस्त बिछड़ते जाते हैं
शौक़ लिए जाता है दूर

हम अपना ग़म भूल गए
आज किसे देखा मजबूर

दिल की धड़कन कहती है
आज कोई आएगा ज़रूर

कोशिश लाज़िम है प्यारे
आगे जो उस को मंज़ूर

सूरज डूब चला ‘नासिर’
और अभी मंज़िल है दूर

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
हाल-ए-दिल मैं सुना नहीं सकता

लफ़्ज़ मा’ना को पा नहीं सकता

इश्क़ नाज़ुक-मिज़ाज है बेहद

अक़्ल का बोझ उठा नहीं सकता

होश आरिफ़ की है यही पहचान

कि ख़ुदी में समा नहीं सकता

पोंछ सकता है हम-नशीं आँसू

दाग़-ए-दिल को मिटा नहीं सकता

मुझ को हैरत है उस की क़ुदरत पर

अलम उस को घटा नहीं सकता

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
कुछ और नही करना तुझे,
मुझे दिवाना बनाने के लिए,
तेरी आंखों का काजल ही काफी है,
मेरी धड़कनों को बढ़ाने के लिए।

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
ज़हन में पानी के बादल अगर आये होते

ज़हन में पानी के बादल अगर आये होते
मैंने मिटटी के घरोंदे ना बनाये होते

धूप के एक ही मौसम ने जिन्हें तोड़ दिया
इतने नाज़ुक भी ये रिश्ते न बनाये होते

डूबते शहर मैं मिटटी का मकान गिरता ही
तुम ये सब सोच के मेरी तरफ आये होते

धूप के शहर में इक उम्र ना जलना पड़ता
हम भी ए काश किसी पेड के साये होते

फल पडोसी के दरख्तों पे ना पकते तो वसीम
मेरे आँगन में ये पत्थर भी ना आये होते

वसीम बरेलवी

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari,
हम दोनो मिलकर इश्क़ निभा हि लेंगे यारो,

मुझे उसके गले लगना पसंद हैं ओर उसे मुझे चुमना 🙈😘

❤️😘 Love Shayari Hindi Sayari
मोहब्बत की हर बात पे आँसू बहा क्यों
तेरा ज़िक्र तेरा चर्चा हर वक़्त रहा क्यों?

उम्मीद यूँ तो मुझको कुछ ज़्यादा ना थी
जब तूने सुनना नहीं था मैंने कहा क्यों?

तूने तो मेरी बाबत सोचा ना होगा कभी
आख़िर तेरा ही इंतज़ार मुझे रहा क्यों?

दिल पर माना किसी का इख़्तियार नहीं
ग़म देना तेरी आदत सही मैंने सहा क्यों?

आज नहीं तो कल शायद तू मिल जाये
यह रौशन ख़्याल मेरे दिल में रहा क्यों?
#life #love #sad

मुझसे कहती है सादा तेरे साथ रहूंगी,

बोहोत प्यार करती हैं मुझसे उदासी मेरी…..

 

सैर कर दुनिया की ग़ाफ़िल ज़िंदगानी फिर कहाँ

ज़िंदगी गर कुछ रही तो ये जवानी फिर कहाँ

Leave a Reply

Your email address will not be published.