दौलत की चाह थी तो कमाने निकल गए,दौलत मिली तो हाथ से रिश्ते निकल गए,बच्चों के साथ रहने की फुर्सत न मिल सकी,फुर्सत मिली तो बच्चे ही घर निकल गए।

shayari

Leave a Reply

Your email address will not be published.